India Travel Tales

Jyotirling Darshan

हमारी महाराष्ट्र यात्रा का पहला दिन – औरंगाबाद में ज्योतिर्लिंग दर्शन
हमारी महाराष्ट्र यात्रा का पहला दिन – औरंगाबाद में ज्योतिर्लिंग दर्शन

हमारी महाराष्ट्र यात्रा का पहला दिन – औरंगाबाद में ज्योतिर्लिंग दर्शन

52 दरवाज़ों के इस शहर में आने का हमारा मुख्य ध्येय घृष्णेश्वर ज्योतिर्लिंग Ghrishneshwar Jyotirlingam के दर्शन करना है। पर जब औरंगाबाद आये हैं तो एलोरा की गुफ़ाएं व यहां के अन्य आकर्षण देखे बिना भला कैसे जा सकते हैं!

हमारी हैदराबाद यात्रा – स्थानीय भ्रमण
हमारी हैदराबाद यात्रा – स्थानीय भ्रमण

हमारी हैदराबाद यात्रा – स्थानीय भ्रमण

क्या आपने कभी नर्क के दर्शन किये हैं? यदि नहीं और दर्शन करने की इच्छा हो तो बिड़ला मंदिर परिसर की पार्किंग के ऊपर बने हुए डायनासोर म्यूज़ियम के पब्लिक टॉयलेट में हो आइये। टॉयलेट सीट में मल तैरता हुआ मिलेगा, पानी की टोंटी खोलेंगे तो उसमें से पानी नहीं निकलेगा, सीट में या दीवार पर वाटर जैट भी लगा हुआ नहीं होगा और न ही आसपास कहीं साबुन दिखाई देगा। यदि आपकी जेब में कुछ कागज़ / टिशु पेपर वगैरा निकल आयें तो बस, उनसे अपना शरीर साफ़ करने का असफ़ल प्रयास करके, बिना हाथ धोये, आप शर्मिन्दगी से भरे हुए बाहर निकल आइये।

हमारी हैदराबाद यात्रा का दूसरा दिन – चारमीनार की सैर

इस श्रंखला की सारी कड़ियां इस प्रकार हैं – हमारी हैदराबाद – महाराष्ट्र तीर्थ यात्रा – पहला दिन श्री शैलम में मल्लिकार्जुन ज्योतिर्लिंग के दर्शन हमारी हैदराबाद – महाराष्ट्र यात्रा का दूसरा दिन – चारमीनार की सैर हमारी हैदराबाद यात्रा…

हमारी हैदराबाद – महाराष्ट्र यात्रा – मल्लिकार्जुन दर्शन
हमारी हैदराबाद – महाराष्ट्र यात्रा – मल्लिकार्जुन दर्शन

हमारी हैदराबाद – महाराष्ट्र यात्रा – मल्लिकार्जुन दर्शन

हैदराबाद से आंध्रप्रदेश श्री शैलम मल्लिकार्जुन भ्रमरम्बा शक्तिपीठ की हमारी जनवरी 2020 की 9 दिवसीय पारिवारिक तीर्थयात्रा अविस्मरणीय रही है।

हमारी हैदराबाद – महाराष्ट्र तीर्थयात्रा – पहला दिन
हमारी हैदराबाद – महाराष्ट्र  तीर्थयात्रा – पहला दिन

हमारी हैदराबाद – महाराष्ट्र तीर्थयात्रा – पहला दिन

जनवरी 2020 में हम 9 लोग नई दिल्ली से हैदराबाद हवाई यात्रा करके सड़क मार्ग से 210 किमी दूर मल्लिकार्जुन ज्योतिर्लिंग दर्शन हेतु पहुंचे।