India Travel Tales

Family Trips

काश्मीर यात्रा – श्रीनगर के बाग, महल और मंदिर के दर्शन
काश्मीर यात्रा – श्रीनगर के बाग, महल और मंदिर के दर्शन

काश्मीर यात्रा – श्रीनगर के बाग, महल और मंदिर के दर्शन

इस ज़बरवान पर्वत का जो ढलान डल झील की ओर है, उस पर तीन खूबसूरत बाग – चश्माशाही, निशात बाग और शालीमार बाग – बने हुए हैं जो शाहजहां के समकालीन हैं। इनके अलावा वर्ष 2007 में इंदिरागांधी मैमोरियल ट्यूलिप गार्डन भी विकसित किया गया है जो एशिया का सबसे बड़ा ट्यूलिप गार्डन बताया जाता है।

जम्मू श्रीनगर हाइवे पर ऐतिहासिक यात्रा!!

मितरों ! पिछली कड़ी में आपने पढ़ा कि कैसे बैठे बिठाये हमारा और हमारे एक मित्र परिवार का अचानक ही काश्मीर घूमने का कार्यक्रम बन गया। हम सहारनपुर से train no. 14645 शालिमार एक्सप्रेस से चल कर सुबह जम्मू तक…

काश्मीर घूमने चलें?
काश्मीर घूमने चलें?

काश्मीर घूमने चलें?

कोच नं० S-6 में प्रवेश कर के, मेरी पत्नी ने पूछा कि कौन – कौन सी बर्थ हैं तो पंकज का जवाब आया – “20 – 21” | मैने पूछा “और बाकी दो?” पंकज ने रहस्यवाद के कवि की सी भाव भंगिमा दोनों महिलाओं की ओर डाली और मेरे कान के पास आकर धीरे से बोला, “अभी दो ही कन्फर्म हुई हैं, बाकी दो यहीं गाड़ी में ले लेंगे।“

दिल्ली – उदयपुर : मेरी पहली हवाई यात्रा
दिल्ली – उदयपुर : मेरी पहली हवाई यात्रा

दिल्ली – उदयपुर : मेरी पहली हवाई यात्रा

कुछ वर्ष पहले तक तो हम रेल में भी ए.सी. यात्रा को फालतू का खर्चा मान कर स्लीपर क्लास में खुशी खुशी यात्रा करते रहे हैं। हवाई यात्रा की हमने कभी कल्पना ही नहीं की। अचानक ये अवसर उपस्थित हो गया तो मन रोमांचित हो उठा।

हमारी महाराष्ट्र यात्रा – शिरडी में साईं धाम के दर्शन
हमारी महाराष्ट्र यात्रा – शिरडी में साईं धाम के दर्शन

हमारी महाराष्ट्र यात्रा – शिरडी में साईं धाम के दर्शन

जिस साईं बाबा के द्वार चौबीसों घंटे खुले रहे, आज उनकी समाधि देखने हेतु 200/- का टिकट है। जो जीवन भर चिथड़े धारण किये रहे, आज उनकी स्वर्णजटित मूर्ति मंदिर में प्रतिष्ठित है।

हमारी महाराष्ट्र यात्रा – शनि शिंगणापुर
हमारी महाराष्ट्र यात्रा – शनि शिंगणापुर

हमारी महाराष्ट्र यात्रा – शनि शिंगणापुर

शनि शिंगणापुर में घरों में, बैंक में डाकखाने में, दुकानों पर दरवाज़े नहीं होते, चोरी का कोई डर नहीं है। बैंक भी रात भर खुला रहता है। अपराधियों को शनि देव के प्रकोप का भय उनको अपराध करने नहीं देता है।

औरंगाबाद : पनचक्की तथा एलोरा गुफ़ाएं
औरंगाबाद : पनचक्की तथा एलोरा गुफ़ाएं

औरंगाबाद : पनचक्की तथा एलोरा गुफ़ाएं

एलोरा गुफ़ाएं जिस काल खंड में बनाई गयीं देश में हिन्दू शासक राज्य करते थे और उनको अन्य मतावलंबियों द्वारा अपने मठ और मंदिर बनाने में कहीं कोई आपत्ति नहीं थी। यहां जैन, शैव, वैश्णव व बौद्ध – कुल 100 गुफ़ाएं हैं।

हमारी महाराष्ट्र यात्रा का पहला दिन – औरंगाबाद में ज्योतिर्लिंग दर्शन
हमारी महाराष्ट्र यात्रा का पहला दिन – औरंगाबाद में ज्योतिर्लिंग दर्शन

हमारी महाराष्ट्र यात्रा का पहला दिन – औरंगाबाद में ज्योतिर्लिंग दर्शन

52 दरवाज़ों के इस शहर में आने का हमारा मुख्य ध्येय घृष्णेश्वर ज्योतिर्लिंग Ghrishneshwar Jyotirlingam के दर्शन करना है। पर जब औरंगाबाद आये हैं तो एलोरा की गुफ़ाएं व यहां के अन्य आकर्षण देखे बिना भला कैसे जा सकते हैं!

रामोजी फिल्म सिटी – एक अविस्मरणीय अनुभव
रामोजी फिल्म सिटी – एक अविस्मरणीय अनुभव

रामोजी फिल्म सिटी – एक अविस्मरणीय अनुभव

यदि आप रात को रामोजी फिल्म सिटी (Ramoji Film City) में अपने लिये उपयुक्त बजट के होटल में रुके हैं तो शूटिंग देखने व फिल्म कलाकारों से मिलने की भी बहुत संभावना है।

रामोजी फिल्म सिटी टूर – चित्रावली
रामोजी फिल्म सिटी टूर – चित्रावली

रामोजी फिल्म सिटी टूर – चित्रावली

यहां से बाहर निकलते ही रेलवे स्टेशन के दर्शन हुए ! सुना है कि ’जा सिमरन, जा ! जी ले तू भी अपनी ज़िन्दगी ’ दृश्य ( दिल वाले दुल्हनियां ले जायेंगे) का क्लाइमेक्स सीन इसी प्लेटफ़ार्म पर फ़िल्माया गया था।