India Travel Tales

Photo Essay

दुबई घुमा लाऊं आपको भी? भाग 03
दुबई घुमा लाऊं आपको भी?  भाग 03

दुबई घुमा लाऊं आपको भी? भाग 03

सिटी मैक्स दुबई की छटी मंजिल से झांक कर देखा तो सामने दुबई फ़्रेम और बुर्ज खलीफ़ा थे । आज हमें दुबई माल भी तो जाना है।

दुबई घुमा लाऊं आपको भी? भाग – 01
दुबई घुमा लाऊं आपको भी?  भाग – 01

दुबई घुमा लाऊं आपको भी? भाग – 01

विदेश यात्रा की शुरुआत हमने tourist-friendly दुबई से की। पैकेज टूर ले लेने के कारण वीसा, होटल बुकिंग, घूमने फिरने का समस्त कार्यक्रम, खाना-पीना सब कुछ आसान हो गया। दुबई में हिन्दी भाषियों के लिये कहीं कोई समस्या नहीं आती है।

नैनीताल – नैनी झील में बोटिंग
नैनीताल – नैनी झील में बोटिंग

नैनीताल – नैनी झील में बोटिंग

यात्रा सहारनपुर से नैनीताल की  काठगोदाम से भीमताल होते हुए नैनीताल नैनीताल – एक अलसाई हुई सुबह  नैनी झील में बोटिंग, चिड़ियाघर, तल्लीताल, चांदनी चौक पिछले पोस्ट  – “नैनीताल की अलसाई एक सुबह” में  मैं आपको बता रहा था कि…

यात्रा सहारनपुर से नैनीताल की
यात्रा सहारनपुर से नैनीताल की

यात्रा सहारनपुर से नैनीताल की

काठगोदाम रेल टर्मिनस है जहां से नैनीताल हेतु दो मार्ग हैं – सीधे नैनीताल या फिर वाया भीमताल – भुवाली – नैनीताल। काठगोदाम से नैनीताल की दूरी 35 किमी है। यात्रा बहुत सुहावनी होती है।

नैनीताल की एक अलसाई सुबह
नैनीताल की एक अलसाई सुबह

नैनीताल की एक अलसाई सुबह

नयना देवी का प्राचीन मंदिर नैनी झील के मल्लीताल वाले तट पर है। नयना देवी नैनीताल की अधिष्ठात्री देवी हैं। प्रातः उठ कर झील के किनारे इस मंदिर में दर्शन करने का सुख अनुभव ही किया जा सकता है, बताया नहीं जा सकता।

घुमक्कड़ी महाकुंभ – पर ये ओरछा है कहां?
घुमक्कड़ी महाकुंभ – पर ये ओरछा है कहां?

घुमक्कड़ी महाकुंभ – पर ये ओरछा है कहां?

झांसी से 16 किमी दूर म.प्र. में टीकमगढ़ में स्थित ओरछा प्रभु राम की पौराणिक, ऐतिहासिक नगरी है और बेतवा नदी के तट पर स्थित है।

घुमक्कड़ों का कुम्भ – ओरछा में पहला दिन
घुमक्कड़ों का कुम्भ – ओरछा में पहला दिन

घुमक्कड़ों का कुम्भ – ओरछा में पहला दिन

घुमक्कड़ों के ओरछा में महामिलन का आयोजन झांसी रेलवे स्टेशन से आरंभ हो गया और हम चतुर्भुज मंदिर, राजा राम मंदिर, जहांगीर महल, बेतवा दर्शन, अभयारण्य आदि घूमते फिरते रहे और बतियाते रहे।

चांद बावड़ी – राजस्थान के दर्शनीय स्थल (Chandbaori Jaipur)
चांद बावड़ी – राजस्थान के दर्शनीय स्थल (Chandbaori Jaipur)

चांद बावड़ी – राजस्थान के दर्शनीय स्थल (Chandbaori Jaipur)

चांद बावड़ी राजस्थान में जयपुर से 90 किमी दूर जयपुर अलवर मार्ग पर दौसा जिले के आभानेरी गांव में हर्षद माता मंदिर के बगल में मौजूद अतुल्य भारत का एक अद्‌भुत पर्यटन स्थल है। जहां देश – विदेश के पर्यटक खिंचे चले आते हैं।

दिल्ली एयरपोर्ट – बागडोगरा – मिरिक होते हुए दार्जिलिंग यात्रा
दिल्ली एयरपोर्ट – बागडोगरा – मिरिक होते हुए दार्जिलिंग यात्रा

दिल्ली एयरपोर्ट – बागडोगरा – मिरिक होते हुए दार्जिलिंग यात्रा

1. उत्तर पूर्व की हमारी अद्‍भुत यात्रा2. दिल्ली – मिरिक होते हुए दार्जिलिंग3. दार्जिलिंग भ्रमण4. दार्जिलिंग से कलिम्पोंग, नामची – चारधाम5. गंगटोक6. शिलौंग – चेरापूंजी7. गुवाहाटी – कामाख्या देवी दर्शन – दिल्ली वापसी नमस्कार मित्रों, पिछली पोस्ट में आपने पढ़ा…

जयपुर दर्शन – जन्तर मन्तर
जयपुर दर्शन – जन्तर मन्तर

जयपुर दर्शन – जन्तर मन्तर

बिना घड़ी, बिना दूरबीन और बिना किसी अन्य आधुनिक यंत्र की सहायता के सूर्योदय, सूर्यास्त, सूर्य ग्रहण, चन्द्र ग्रहण, विभिन्न ग्रहों की स्थिति, समय आदि की गणना जंतर मंतर के इन यंत्रों से की जा सकती है।